बुध पारगमन 2021: कुंभ राशि में शाम 4:19 बजे बुध ग्रह गोचर, राशि परिवर्तन राशि इस राशि वालों पर क्या प्रभाव पड़ेगा

0
12


मिथुन व कन्या राशि के स्वामी बुध को ज्योतिष शास्त्र में काफी महत्वपूर्ण माना जाता है। बुध ग्रह 25 जनवरी 2021 को मंत्र राशि से निकल कर कुंभ राशि में गोचर करेंगे। बुध का राशि परिवर्तन शाम 04 बजकर 19 मिनट पर होगा। बुध ग्रह को बुद्धि, संचार, भाषण, शिक्षा और स्वभाव आदि का कारक माना जाता है।

ज्योतिषाचार्यों के अनुसार, बुध जो भी ग्रह के साथ युति करता है, उस ग्रह के अनुसार ही व्यवहार करने वाला लगता है। बुध, सूर्य का सबसे करीबी ग्रह है और अपनी मार्गी गति में यह 28 दिनों के बाद एक राशि से दूसरी राशि में प्रवेश करता है। बुध ग्रहंभ से मकर वक्री 04 फरवरी 2021 को रात 10 बजकर 46 मिनट पर होगी। जानिए आज बुध के राशि परिवर्तन का कुंभ राशि के जातकों के जीवन पर क्या असर पड़ेगा।

पति-पत्नी के बीच ये 5 बातें ही उठती हैं प्यार, आप भी जानिए सुखद वैवाहिक जीवन का राज

बुध गोचर २०२१ कुंभ राशि वालों पर प्रभाव-

सूर्य का सबसे करीबी ग्रह जब कुंभ राशि में गोचर करता है तो इस राशि के जातक अपनी चीजों का दिखावा करना पसंद करते हैं। गोचर के दौरान आपका दिमाग सक्रिय अवस्था में रहेगा। आप बैचेनी भी महसूस कर सकते हैं। इस गोचर के दौरान आप कई उतार-चढ़ाव का सामना कर सकते हैं। जिसके कारण आपको मानसिक तनाव का सामना करना पड़ सकता है।

मानसिक तनाव के कारण आप कई गलत निर्णय ले सकते हैं। इस गोचर के दौरान आपको जरूरतमंदों की मदद करने के लिए तैयार रहना होगा। इस गोचर के दौरान आप सामाजिक कार्यों में भी शामिल होंगे। इससे मानसिक शांति मिलेगी। इस दौरान आप जो निर्णय लेंगे, उन पर दृढ़ता से चिपके रहेंगे। छात्रों के लिए समय मुश्किल साबित हो सकता है। इस राशि वालों के लिए यह सरकार के लिए बेहद महत्वपूर्ण साबित होगा। जीवन साथी के साथ संबंधों में सुधार होगा। निवेश से लाभ प्राप्त हो सकता है। सेहत का ख्याल रखें।

उपाय- ज्योतिषाचार्यों के अनुसार, गोचर के दौरान भगवान विष्णु की पूजा करने से लाभ मिलेगा।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here