सीरम ने 95 प्रति खुराक की पेशकश की, भारत बायोटेक ने 11 शहरों में भीरीज कोरोना वैक्सीन की

0
7


नई दिल्ली: भारत सरकार द्वारा सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया से खरीदी गई कोरोनावायरस के वैक्सीन की 1.1 करोड़ खुराकों में से 95 प्रतिशत की आपूर्ति देश भर में कर दी गई है। सूत्रों ने बुधवार को यह जानकारी दी। इससे एक दिन पहले ही वैक्सीन को देश के अलग-अलग हिस्सों में पहुंचाने का काम शुरू हुआ था। ऑक्सफोर्ड / एस्ट्राजेनका के कोविड -19 रोधी टीके ‘कोविशल्ड’ की पहली खेप मंगलवार सुबह पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की मैन्युफैक्चरिंग यूनिट से निकली थी। सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया में इस वैक्सीन का निर्माण किया गया है।

वैक्सीन की खेप के बारे में विमान पुणे से 13 शहरों के लिए रवाना हुए थे। परिवहन व्यवस्था में शामिल सूत्रों ने बताया, “कुल खरीद सूची (1.1 करोड़ खुराकों) में से अबतक 95 प्रति खुराकों की आपूर्ति कर दी गई है। बची एक लाख से अधिक खुराकों की आपूर्ति भी जल्दी कर दी जाएगी।” एसबी लॉजिस्टिक के के एमडी संदीप भोसले ने बताया कि बुधवार को विमान वैक्सीन की खेप के बारे में आगरा, मेरठ, बरेली, पुडुचेरी, पोर्ट ब्लेयर और लेह रवाना हुए। भारत में कोरोनावायरस के खिलाफ टीकाकरण अभियान 16 जनवरी से शुरू होने जा रहा है।

भारत बायोटेक ने विमानों से 11 शहरों को भेजी कोरोना वैक्सीन बनाया

स्वदेशी कोरोना वैक्सीन विकसित करने वाली दवा कंपनी भारत बायोटेक ने बुधवार को कहा कि उसने देश के 11 शहरों में सफलतापूर्वक ‘कोविक्सीन’ भेज दी है। कंपनी ने कहा कि उसने कोविक्सीन की 16.5 लाख खुराकें सरकार को दान की हैं। भारत बायोटेक ने एक बयान में कहा, ”55 लाख खुराकों का सरकारी नंबर मिलने के बाद कंपनी ने पहला खेप भेज दी है। इसमें हर शीशी में 20 खुराक हैं। ”

कंपनी ने कहा कि वैक्सीन की खेप को गणवराम, गुवाहाटी, पटना, दिल्ली, कुरुक्षेत्र, बेंगलुरू, पुणे, भुवनेश्वर, जयपुर, चेन्नई और लखनऊ भेजा गया है। भारत बायोटेक ने बुधवार को बार्सिलोना की कंपनी प्रीसिसा मेडिकामेंटोस के साथ भी कोरोना वैक्सीन आपूर्ति करने का एक निष्कर्ष निकाला।

ड्रग्स केस: NCB ने महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक के दामाद को गिरफ्तार किया, UP के रामपुर में भी छापेमारी की।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here